Life is my teacher!!!

​Drips and drops, 

I walk on rocks, 

Living my life in freedom, 

Finding my own spot,

Let the flow be against me,

Let it be as cold it can,

But I find what I wish to, 

In the dark, 

On the hard rock. 

A string is enough for me to balance, 

The focus is on my own strength,

My life has taught me things, 

Everywhere, the splash of knowledge, 

Is what I see!!

New Man in the city

I am just other new man,
In the city where I can,
Live and Dream,
Shape my life,
Maybe it is not that easy as it seem,
But I can decide,
And be visible and be seen.

There is bit chaos,
And the peace is limited,
But I am ready to pay the price,
Because worth it may.
I hope to find, the key I want,
To open a new door,
To find a new shine.

The thought I had,
When I walked in the city,
With hope and will to be the star,
To be the man I want you to be.
I am just other new man,
In this new city.

Why life???

Hey life,
Why you act like this,
Just like my earphones,
I Keep you unraveled every time,
But when take out you next,
You are tangled again,
You are jumbled up again!

Hey life,
Why you act like this,
Just like my wardrobe,
One day I feel proud,
To see you so organised and nice,
But when I open you in a week,
You are unsettled again,
You are messy again.

Hey life,
Why you act like this,
Just like my Internet router,
One moment I feel so glad,
To see your speed,
But when I want to make most of it,
You are slow,
You are weak!

Hey life,
Why are you so unsettled,
Why are not always,
As you seems!!!

Inspired from two lines by my friend ‘Rupesh Kumar’ हर बार सुलझा कर रखता हूँ,हर बार उलझी हुई मिलती है
ए ज़िन्दगी तेरे मिज़ाज़ मेरी earphone सी क्यों है…..!

Life!

Life,
Is an addition!
Of Moments
Of love, trust and faith,
Subtraction of
Sorrow, tears and grief
Multiplied by
Family, relatives and Friends,
With a small division,
By distance!!

Stress is there,
Drink it!
Let the happiness flow,
Not a single moment
Is worth to spent,
In crying, being lonely or sad!
Blowout the pressure,
Enjoy every moment,
Nothing should stop
The world,
To see your face with glow!!

Live,
Every second with belief
That there is,
Something better ahead!
Every moment with determination,
To achieve,
What you always dreamt!
Every day,
With excitement,
For what going to happen next!

Life is
Just a game of Snake and ladder,
Sometime a step and
You go down or that step
Takes you to the top.
Just enjoy every bit
And trust yourself
You will do
Something Great!!

Rolling water on my window pane!!!

Rain 016

Rolling water on my window pane,

Reflecting image of all kind,

Glowing with brightness outside,

Still with a line of blackness on down side!

Not stable at all,New water droplets make it roll,

Larger it gets, heavier it becomes

More it collects on it way,

Rolling on the smooth surface,

Giving a motion to all the small ones.

Cleaning the dirt, making it way

Staying on ground reach its destination.

Life is not different,

Inspire from the rolling water,

You should reflect your society

Over passing darkness of yours,

Don’t be lazy keep moving,

More you learn harder becomes your duties,

Share your knowledge on the way,

Clear up the dirt, make your way,

Show illiterates the right pathway,

Stay grounded with your achievements

While you leave clean and beautiful

From the lanes you pass away.

दुःख! जिंदगी सिक्के का एक पहलु !!!

दुःख!
भावनाओ से भरे जिंदगी का एक चेहरा है ऐसा भी,
जिसे देखने से कतराते सब,
चाहते न हो किसी का सामना उससे,
फिर भी सिक्का जिन्दगी का गिरता है इस पट को ऊपर किये|

है दुखी कोई किसी के खो जाने से,
कोई दुखी है किसी को न पाने से,
कोई अकेला पड़ा दुखी हो रहा,
हर का किस्सा है अलग, लेकिन भरा दुःख है पड़ा
हर किसी के सतरंज के एक खाने में|

हूँ दुखी मैं भी हर किसी के तरह,
लेकिन साथ अपनों का दबा रखा उसे
कौन कहता है, रोने से दुःख हैं मिट जाते,
हसो और फिर हसने का असर देख लो |

जिंदगी है घूमता चक्का सफ़र तय करना है तुझे,
हो दुखी अपने हर पल में तुम चलने की सोच रहे ,
तो रह जाओगे छुट पीछे तुम बेचारे,
रह खुश, बांटों ख़ुशी! देखो तुम रफ़्तार फिर इसकी
मंजिल मिले जब भी भी तुम्हे,
कष्ट न होगी इस सफ़र में दोस्त मेरे!

सिक्के के हर पहलु पर हंस के देखो,
सुख के पट गिरे तो फिर बात कैसी,
गर गिरे ये दुःख के पट,
फिर हंसों क्योंकि हुई उससे जीत किसी की!

दुःख!
भावनाओ से भरे जिंदगी का एक चेहरा है ऐसा भी|

तेरी मुस्कराहट तेरी बसंत बहार है!!!

Happiness is gem of life and that is you who have to find it! Keep Smiling!!! 🙂

खिलखिलाती ये दुनिया,हँसता संसार है,
सुनसान अन्धेरें में पड़ा क्यों खड़ा बेकार है,
जीने के चार दिन क्यों गवाँ रहा इस कदर,
साथ देने को खड़े कितने हमसफ़र यार हैं|

ढूंढ़ रहा वीरान में क्या तू यूँ घूर कर,
देख हरियाली से ढकी खुशियाँ बेसुमार हैं,
अकेले बैठ कर क्या होगा खुद को कोस कर,
सीख उनसे जो हंस रहे गहरे दुःख झेल कर|

सोच कर यूँ बेकार में आँखें धंस गयी हैं तेरी,
हंसी बिन चेहरा तेरा सफ़ेद हो कर जम गया,
दे पहुंचा ठेस दुःख को उनपर मुस्कुरा कर,
जी ली अब तू हर पल अपने गलतियों से सीख कर|

खोल आँखें समां ले रौशनी चहुँ ओर से ,
सेक ले आपने बदन को सूरज से आज तू,
है चांदिनी शीतल करने को बाद उसके आ रही,
तेरी मुस्कराहट हमेशा तेरा बसंत बहार है|

खिलखिलाती ये दुनिया,हँसता संसार है,
सुनसान अन्धेरें में पड़ा क्यों खड़ा बेकार है,
जीने के चार दिन क्यों गवाँ रहा इस कदर,
साथ देने को खड़े कितने हमसफ़र यार हैं|

तू राह निर्माता बन, राहगीर कई बन जायेंगे|

कर कर कुछ ऐसा कर,
जमाना भूल न जाये तुझे,
आज स्वार्थ को तू भूल कर,
बाँट जल कि दूसरों की प्यास बुझे|
पग उठा न कर आलस आज तू,
निकल बाहर खुद के चैन को भूल कर,
रो रहा हर मानव खुद के दुःख से,
बंद कर रोना तू, जा पोछ दे आंसू उनके|
कोई प्यासा है, कोई है भूखा,
कोई कुछ खो कर आज बिलख रहा है,
हर कोई रोता रहा तो जीना कौन सिखाएगा,
कष्ट का याद करता रहा तो,
कोई कैसे मुस्कुराएगा?
जीवन तेरा आज प्राण किसी को दे जाएगी,
कोई हँस देगा देख तेरी मुस्कराहट,
कोई साथ देने खड़ा हो जायेगा|
ले पहला कदम तू साहस कर,
साथ कई हो जायेंगे,
मिला तेरे कंधे से कंधे निस्वार्थी वो हो जायेंगे|
अगुवाई कर तू, भूल जा कोई पीछे है या नहीं,
नदी बन बहता जा,
उसका रास्ता कोई रोक सकता नहीं,
कर निर्माण पथ का अपने तू,
किनारे खुद हरे भरे हो जायेंगे|
चाह कर भी ये ज़मानेवाले न भूल पायेगे|
तू राह निर्माता बन, राहगीर कई बन जायेंगे|

दोस्ती एक अजीब रिश्ता! [Friendship]

When all-around everyone is talking about friendship day,  I went in my thoughts, those every moment I spent with friends. How precious they are for me? And By- default 😛 they are one of the most amazing days. Every one of them are precious in my life and all of them make my life look beautiful. Just can’t express all what I feel right now! But Yo frens here is just a tiny Hint  how important you all are in my life! Thanks for being the part of my life!

दोस्ती एक अजीब रिश्ता,
एक एहसास किसी के साथ का,
फल एक अनजाने से मुलाकात का,
साथ साथ हसने का, खिलखिलाने का,
हर गम, दुःख बाटने का|

वो हर पल जो बिताये हमने,
यारों के बीच, अनजानों! जो बने अपने के बीच,
एक हसीं सपने सी बन गयी है जीवन में,
हर दोस्त जीवन माला में मोती बन,
बना गए अमूल्य हर एक वो पल|

आज अकेला हो कर भी अकेला लगता नहीं,
दोस्तों से बात करके जी भरता नहीं,
उनकी हसी मुस्कराहट भर जाती है,
गम उनका फ़ेंक देता है पत्थर जैसे सीने पे,
सोच से परे है वो ख्याल बिना दोस्तों के जीने के|

ए खुदा खुश हूँ तुने बनाया है ये रिश्ता,
हर रिश्ते से अलग मगर अमूल्य हर रिश्ते सा,
जिनसे हर बात बोल लेता हूँ बिना चोट पहुंचाए उन्हें,
जो समझ लेते हर बात बिना कोई बात बताये,
बन गए जो अपने बिना खून का रिश्ता बनाये|

दोस्ती एक अजीब रिश्ता,
एक एहसास किसी के साथ का,
फल एक अनजाने से मुलाकात का,
साथ साथ हसने का, खिलखिलाने का,
हर गम, दुःख बाटने का|

हे इन्सान तू क्यों रोता है !!!

हे इन्सान !
तू रो क्यों रहा आज,
कल तू दूसरों को लुटता देख रहा था
तू क्या सोच रहा आज,
कल खुद में मदमस्त पड़ा था,
कल वो कष्ट सूली पर था,
आज तू खड़ा वहाँ है,
कल वो दया की भीख मांग रहा था,
आज तू दुहाई दे रहा है,
हुआ था वो अभिशापित कल जिस कारण,
आज वही शाप दर्द तुझे दे रहा है,
कल वो लुटा जा रहा था ,
करम ऐसा कि आज तू लुट रहा है,

सोचा न तुमने हो सकता था वो तेरे साथ,
तुझे खुद की पड़ी थी,
अपने आँखे मीचे तू छिपा खड़ा था,
लूटने दो उनको जो हैं नीचे
गर तू खड़ा होता उस दिन तो
आज बनता वो प्रभाव रक्षक तुम्हारा,
अगर देख लेते एकता उस दिन,
न करते कोशिश वो दानव दुबारा|
जिस कर्म को तू बोता है,
फल लगता हैं उसमे वही,
आज रोने से क्या होता है,
कल तुने माना था उसे सही|